संस्करण: 18मई-2009

CLICK HERE TO DOWNLOAD HINDI FONT

हिंदुत्व विकास विरोधी क्यों है?

 रेंद्र मोदी इस बात को सिरे से खारिज करते हैं कि हिंदुत्व विकास के साथ अनिरंतर हैं। इसके पीछे वे गुजरात के विकास का उदाहरण या तर्क प्रस्तुत करते हैं। वास्तव में, न केवल गुजरात का प्रशासन गत्यात्मक है, बल्कि >टी.के.अरुण


डरा हुआ मुंसिफ
पुलिस की कार्यप्रणाली पर एक नज़र
    पुलिस एक बहुत ताकतवर महकमा होता है और कोई भी न्यायिक अधिकारी इस बात की जोखिम नहीं उठा सकता कि वह उससे पंगा ले। मुझे उच्च न्यायालय से सुरक्षा की जरूरत है। >सुभाष गाताड़े


कुटिल निहितार्थ वाले बयानो की धनी पार्टी

     लोकसभा चुनावों के दौरान अफजल को फाँसी देने का प्रश्न भाजपा की आम सभाओं में प्रमुख मुद्दे की तरह उभरा। आम चुनाव आगामी सरकार के गठन और उस आगामी सरकार की नीतियों और कार्यप्रणाली पर  >वीरेंद्र जैन


फिर कठघरे में मोदी
  सुप्रीम कोर्ट के अभी हाल ही में आए एक के बाद एक आदेश ने गुजरात दंगा पीड़ितों में इंसाफ की आस जगाई है। मुल्क की आला अदालत के तारीखी फैसले से दंगा पीड़ितों में ये यकीन बड़ा है कि मुजरिम सियासी रुप से>जाहिद खाने


दक्षिण एशिया में प्रचंडहीन भारतीय कुटनीति
 लोकतंत्र और दक्षिण एशिया में प्राय: आंख मिचौली का खेल चलता रहता है, कभी पाकिस्तान में तख्ता पलट तो कभी नेपाल में खून-खराबा। बांग्लादेश की बात ही निराली है। लोकतंत्र, आतंकवाद और तख्तापलट आदि >दुलारबाबू ठाकुर


कहां जाएगा प्रभाकरण
 जैसे-जैसे श्रीलंकाई सेना लिट्टे के खात्मे की तरफ कदम दर कदम बढाती जा रही है इस सवाल प्रवाह तेज होता जा रहा है कि आखिर एलटीटीई प्रमुख वेल्लुपिल्लई प्रभाकरण होगा क्या. सेना की मानें तो लिट्टे>नीरज नैयर


मतदान प्रतिशत में हुई कमी राजनेताओं
के लिए चिंता और चिंतन का विषय

लोकसभा निर्वाचन 2008 में राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनैतिक दलों तथा निर्दलीय प्रत्याशियों द्वारा चुनाव प्रचार में बड़ी पूंजी झोंक देने के बावजूद भी मतदान का प्रतिशत अपेक्षा के अनुरूप नहीं बढ़ पाया। सभी राजनैतिक >राजेंद्र जोशी


अपमान का घूंट पीकर जी रहे हैं प्रदेश के दलित

 भारतीय जनता पार्टी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह यह दावा करते रहते हैं कि उन्होंने विधानसभा चुनाव विकास के मुद्दे पर जीता है। परन्तु शनै:-शनै: चुनाव के बाद जो परिस्थितियां निर्मित हो रही हैं उनसे यह साफ हो रहा >एल.एस.हरदेनिया


स्वयंसेवी संगठनों के लिए पारदर्शी नीति बनें

मेरे एक मित्र हैं विनय कुमार जो एन.जी.ओ. चलाते है,ग्रामीण विकास में विशेषज्ञता हासिल करने के बाद उन्होने स्वयंसेवी संगठन के जरिए ग्रामीण विकास का पहिया दौड़ाने का>डॉ. सुनील शर्मा


आर्थिक विकास से जुड़ा पानी

किसी भी देश के आर्थिक विकास में जीवनदायी जल की महत्ता अंतर्निहित है। हालांकि विकास दर के सूचकांक को नापे जाते वक्त पानी के महत्व को दरकिनार रखते हुए किसी भी देश की>प्रमोद भार्गव
 


अपने होने का असर दिखाता पानी
पानी ने अपने होने का असर दिखाना शुरू कर दिया है। अखबारों की सुर्खियाँ बता रही हैं कि पानी के लिए हाहाकार मचना शुरू हो गया है। अभी तो यह शुरुआत है, गली-मोहल्लों से>डॉ. महेश परिमल


तपती धरती घटती प्रजातियां
 ज हम सभी महसूस करते है कि भारत सहित पूरे विश्व को अनेक प्रकार की पर्यावरणीय समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। हवा, पानी,मिट्टी का लगातार दूषित होना,ओजोन परत का क्षय होना>स्वाति शर्मा
 



  18 मई 2009

Designed by-PS Associates
Copyright 2007 PS Associates All Rights Reserved