संस्करण: 12 जुलाई-2010  

CLICK HERE TO DOWNLOAD HINDI FONT


 

मोहन भागवत हाजिर हों!
आतंकवाद के भस्मासुर में उलझता जा रहा संघ


सूबा उत्तर प्रदेश के संघ के प्रमुख अशोक बेरी, संघ के कानपुर स्थित प्रांत प्रचारक अशोक वार्ष्णेय और अजमेर तथा मक्का मस्जिद बम धमाके के मास्टरमाइंड हाल तक झारखण्ड प्रांत के प्रमुख प्रचारक/आतंकवादी देवेन्द्रर गुप्ता में>सुभाष गाताड़े
 


 

 भाजपा पर बरगद का साया

   लोकतंत्र में सत्ता पक्ष की मनमानियों पर अंकुश रखने के लिए सबल विपक्ष की ज़रूरत होती है। भारत में प्रमुख विपक्षी दल है भारतीय जनता पार्टी, जो विपक्ष की भूमिका निभाने में नाकाम नज़र आ रही है। ऐसे में लोकतांत्रिक>महेश बाग़ी
 


 

पीथमपुर को कार्बाइड का जहर
 

भोपाल गैस पीड़ितों को न्याय दिलाने में असफल रही सरकार अब मध्यप्रदेश के औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर में दूसरी त्रासदी का इंतजाम कर रही है. मध्यप्रदेश सरकार द्वारा यूनियन कार्बाइड के जहरीले कचरे को>राखी रघुवंशी

 


 

अगले गैस काण्ड की भूमिका लिखती
छत्तीसगढ सरकार की औद्योगिक नीति


  दुनिया की भीषणतम औद्योगिक दुर्घटनाओं में से एक भोपाल गैस काण्ड पर घटना के पच्चीस साल बाद आये फैसले के बाद उसके असली गुनाहगारों को जो बेहद मामूली सी सजा हुयी है उससे सारी दुनिया हतप्रभ है और>वीरेंद्र जैन


निष्पक्ष निर्वाचन की उम्मीद रखना बेमानी
गुजरात में मतदाता सूचियों में धांधली का आरोप


     संसद और विधानसभाओं के निर्वाचनों में विजय हासिल करने के लिए राज्य की सत्ताओं द्वारा कई तरह के धत्करम किए जाने लगे हैं। निष्पक्ष निर्वाचनों की उम्मीद रखना लगता है, अब बेमानी हो गया है। राजनैतिक दलों>राजेंद्र जोशी


 

भाजपा को एक के बाद एक घूँट पीना पड़ रहा है

 स समय भारतीय जनता के सितारे गर्दिश में हैं। परिस्थितयाँ कुछ ऐसी निर्मित हो रही हैं कि भाजपा को अपना अस्तित्व बचाये रखने के लिए एक के बाद एक अपमान के घूंट पीने पड़ रहे हैं। अभी कुछ दिन पूर्व,>एल.एस.हरदेनिया


 

यौन प्रताडना मानवाधिकार हनन का मसला
इंटेलिजेन्स ब्युरो और रॉ बाहर क्यों हैं सूचना देने से ?


 सूचना के अधिकार के तहत अश्वनी श्रीवास्तव नाम के व्यक्ति ने रॉ तथा आई बी से पिछले दस साल में अधिकारियों के खिलाफ यौन उत्पीड़न, मानवाधिकार उल्लंघन तथा भ्रष्टाचार के आरोपों की जानकारी मांगी थी जिसक>अंजलि सिन्हा


 

जनगणना और जातिगणना

        मारे हिन्दू समाज में धर्म और जाति को बड़ा महत्व दिया जाता हैं। हमारा धर्म और जाति दोनों ही अति प्राचीन हैं। इतिहासकारों का मानना है कि हमारी जाति प्रथा का वर्तमान स्वरूप उत्तर वैदिक काल तथा महाकाव्यों के युग>डॉ. देवप्रकाश खन्ना


 

 ....बरसते पानी को बांध लीजिये

   र्षों से वर्षा हमारी पेयजल, सिंचाई और औद्योगिक आवश्यकताओं की पूर्ति करती आई है पर जब कभी मानसून या मौसम दगा दे जाता है तो आमजीवन की समस्याऐं कहीं अधिक जटिल बन जाती हैं। मानसूनी वर्षा पर अभ>शब्बीर कादरी


 

म.प्र. में सरकारी शोषण के शिकार पढ़े लिखे


वीरेन्द्र मास्साब मुझे कल मिले गए थे किसी विवाह समारोह की फोटोग्राफी करने गए थे बताने लगे कि भैया नौकरी करते हुए दस बर्ष हो गए है लेकिन वेतन मजदूरों से भी कम है, शिक्षाकर्मी की तनख्वाह में अब घर नहीं>डॉ. सुनील शर्मा


 

राष्ट्रीय गौरव की नई इबारत लिखेगी साइना

क आलसी और खूब सोने वाली लड़की से भला क्या अपेक्षा की जा सकती है? क्या उसके माता-पिता यह सोच सकते हैं कि एक न एक दिन वह हमारा ही नहीं, बल्कि देश का नाम ऊँचा करेगी। लड़की के आलसपन क>डॉ. महेंश परिमल

12 जुलाई-2010

Designed by-PS Associates
Copyright 2007 PS Associates All Rights Reserved