संस्करण: 12अक्टूबर-2009

CLICK HERE TO DOWNLOAD HINDI FONT


 

अब ग्रामीण बाजार पर
निजी कंपनियों की नजर

 

27 फरवरी को भारती एयरटेल ने महाराष्ट्र में पुणे से 70 किमी दूर औसारीकुर्द गांव में अपना पहला ग्रामीण सेवा केन्द्र खोला। तीन दिन बाद, आंधप्रदेश में इस तरह के पहले सेंटर का शुभांरभ>अमित शर्मा


 

एक नई चाल की तलाश में भाजपा

 

क्या एक नाटककार नहीं था, जिसने एक निर्माता की तलाश में छह चरित्रों को गढ़ा था?  खैर, भारत में एक ''बड़ी'' राजनीतिक पार्टी है, जो हमेशा से एक कार्यक्रम की तलाश में रहती है। इसे भारतीय >बद्री रैना


 

सत्ता और संगठन में संभावित रिक्त पदों के लिए आंतरिक घमासान
बनने लगी युवाओं की फेहरिस्त

 

राजनीति का क्षेत्र इतना अधिक ग्लैमरस बन गया है कि लोग बाग इस क्षेत्र मे घुसकर सत्ता और संगठन में कोई न कोई मलाईदार वैभवशाली और चमकदार पद पर काबिज होने के लिए तरह-तरह के दांवपेच >राजेंद्र जोशी


 

मध्यप्रदेश में जन वितरण प्रणाली
चरित्र बिना छवि सुधारने की पहल

 

ध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार है व भाजपा हमेशा ही अपने लोगों को छवि सुधारने के लिए कहती रहती है। यदि हरिशंकर परसाई के शब्दों को उधार लेकर कहा जाये तो यह ऐसा है जैसे कि कोई चरित्रहीन>वीरेंद्र जैन


 

बुंदेलखंड जहां पत्नियां व बेटियां
गिरवी रखी जाती है और बेची जाती हैं

 

दिनांक पांच अक्टूबर के हिन्दुस्तान टाईम्स में एक ऐसी खबर छपी है जिसे पढ़कर उन सब का सिर शर्म से झुक जाएगा जिनके मन में दु:खी और शोषितों के>एल.एस.हरदेनिया


 

माफियाओं से घिरी सरकार

 

ध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि माफ़िया प्रदेश को खोखला कर रहे हैं। उन्होंने पुलिस महानिरीक्षकों का आव्हान किया है कि वे इन माफियाओं को ख़त्म कर दें।>महेश बाग़ी


दु:खों की कारगर दवा बनता चरखा

 

हात्मा गांधी द्वारा स्वरोजगार व स्वालंबन का औजार बनाया गया चरखा अब दु:खों की कारगर दवा के रूप में उपयोग में लाया जा रहा है। जापानी लोग चरखें का इस्तेमाल कर अपने मानसिक कष्टों का>प्रमोद भार्गव


बदलते मौसम से बेहाल खेती

 

स सत्र में हमारा सामना सदी के भीषण सूखे से हो रहा है,इस सत्र का सितम्बर माह पिछले सौ बर्ष का सर्वाधिक गर्म सितम्बर रहा है और इस अक्टूम्बर माह में देश के>डॉ. सुनील शर्मा


भारत में भूतापीय
ऊर्जा स्त्रोतों का विकास

 

भूतापीय ऊर्जा पृथ्वी के अंदर से प्राप्त होती है, इसलिए इसे भूतापीय ऊर्जा कहा जाता है। इस ऊर्जा की उत्पत्ति मुख्यत: पृथ्वी में सर्वत्र समाये यूरेनियम, थोरियम व पोटेशियम आइसोटोप के विकिरण और पृथ्वी की कोर में > स्वाति शर्मा


निजी जीवन में मध्यस्थ की भूमिका में पुलिस

 

ड़ीसा के गंजाम जिले के पाटापुर थाना प्रभारी एस एल के प्रसाद ने कहा कि अपराधा रोकने के अलावा पुलिस की कुछ जिम्मेदारी भी होती है। इस थाने में पिछले छह महिने में तीन शादियां> अंजलि सिन्हा


17 अक्टूबर-दीपावली पर विशेष
ज्योति-पर्व को सार्थक बनायें...

 

स देश में अगणित पर्व-त्योहार मनाये जाते हैं। मांगलिक व्रत-पूजन और अनुष्ठान का क्रम वर्ष भर निरंतर चलता रहता है। पर्व-त्योहारों से जुड़ी अनेक कथाएं प्रचलित हैं जिनमें> डॉ. गीता गुप्त



12 क्टूबर-2009

Designed by-PS Associates
Copyright 2007 PS Associates All Rights Reserved