संस्करण: 10 नवम्बर- 2014

CLICK HERE TO DOWNLOAD HINDI FONT


भारत के प्रधान मंत्री का दिल बड़ा होना चाहिए

      तो सारा देश जानता है के भारतीय जनता पार्टी के नेता और भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी बहुत अच्छे वक्ता  हैं। उनके भाषणो से ही प्रभावित हो कर  देश के मतदाताओं ने उन्हें चुना है उनकी भाषा ऐसी  है के लोगों को उनपर भरोसा  हो जाता है। यह कोई साधारण बात नहीं है और इसके साथ बहुत ही गंभीर जिम्मेदारियाँ भी जुड़ जाती हैं।

? भवानी शंकर


पीठ पर उद्योग, कदमों में मीडिया

        हा ही में दो ऐसी घटनाएं हुईं जो यदि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा किसी और राजनीतिक दल के नेता के साथ घटतीं तो शायद मीडिया में बवाल मचा होता। इसलिए यह सवाल उठाए जा रहे हैं कि क्या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया मोदी की चरण वंदना में जुटा हुआ है? लोकसभा चुनाव के पहले से सिलसिलेवार कडियों को जोड़ें तो टीवी मीडिया का एक बड़ा धड़ा पत्रकारिता की बजाए सिर्फ मोदी के कार्यक्रमों की सूचना देने वाला दिखाई पड़ता है। याद कीजिए चुनाव से पहले मोदी ने उद्योग चैंबर-फिक्की के महिला संगठन (एफएलओ) को संबोधित किया था।

?

विवेकानंद


मोदी, उमा बनाम जवाहरलाल नेहरू: वैज्ञानिक चिन्तन का सवाल

     क्या मिथकों में वर्णित किस्से-कहानियों को खास समाजों, समुदायों में वैज्ञानिक प्रगति का प्रमाण माना जा सकता है ? क्या विभिन्न धर्मग्रंथों में दिए चमत्कारों के विवरण हमें उन विशिष्ट धर्म के माननेवालों के अधिक विज्ञाननिष्ठ होने का सबूत मान सकते हैं ?

 ? सुभाष गाताड़े


संघ परिवार नेहरू से क्यों घबराता है

      पिछले दिनों राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की केरल इकाई की पत्रिका केसरी में छपे लेख जिसमें कहा गया था कि गोडसे को गांधी के बजाए नेहरू की हत्या करनी चाहिए थी से संघ परिवार ने भले ही अपने को अलग करते हुए इसे लेखक का अपना विचार करार दिया है लेकिन बावजूद इसके इस प्रकरण से एक बार फिर देश के प्रथम प्रधानमंत्री के प्रति संघ की पुरानी नफरत उजागर हो गई है।

? शाहनवाज आलम


शिवसेना का संकुचन या कभी मुँहफट होना उनका गुण था

            गुर्राता हुआ शेर शिवसेना का प्रतीक था जो बाला साहब ठाकरे के बयानों और कामों से साम्य रखता था किंतु पिछले दिनों घटे घटनाक्रम को देखते हुए अपने दिन गिनता हुआ यही शेर अब शिवसेना के साथ एक व्यंगचित्र की तरह नजर आने लगा है।

  ?  वीरेन्द्र जैन


इंदिरा जी को सम्मान देकर मोदी ने यह प्रदर्शित किया कि उनका दिल कितना छोटा है

         रेन्द्र मोदी ने 31 अक्टूबर को जो किया शायद वह बहुसंख्यक भारतवासियों को अच्छा नहीं लगा होगा। उस दिन भारत के एक महान सपूत का जन्मदिन था साथ ही भारत मां की एक बहादुर पुत्री का बलिदान दिवस भी। शायद नरेन्द्र मोदी को यह पता होगा कि 31 अक्टूबर को इंदिरा जी ने स्वयं मौत को निमंत्रण दिया था। इंदिरा जी की सुरक्षा में देश के सभी क्षेत्रों के रहने वाले शामिल थे।

? एल.एस.हरदेनिया


इस्लामी दुनिया का संकट और भारतीय मुसलमान

      पिछले दिनों कश्मीर में भी आईएसआईएस के झंडे लहराने कि घटनायें सामने आई है दूसरी तरफ आतंकी संगठन अंसार-उल-तौहीद द्वारा अपने ट्विटर अकाउंट में एक विडियो जारी किया गया है। एक अंग्रेजी अखबार में प्रकाशित खबर के अनुसार विडियो में दिखाई दे रहा नकाबपोश 39 वर्ष का सुलतान अब्दुल कादिर आरमार है जो कर्नाटक के भटकल गाँव के एक छोटे व्यापारी का बेटा है। अगर यह खबर सही है तो यह पहली बार है जब एक भारतीय द्वारा सार्वजनिक  रूप देश के मुसलमानों को वैश्विक जिहाद के लिए आह्वान किया गया है।

? जावेद अनीस


स्त्री अधिकारों की तस्वीर इतनी भयावह क्यों ?

     कु ताजा खबरें हैं जिन्हें इकठ्ठा करके पढ़ना स्त्री अधिकारों के लिए भयकारी और मर्द जाति के लिए शर्मिन्दगी का बायस बनता है। ईरान में गत सप्ताह एक युवती को इसलिए फाॅंसी पर लटका दिया गया क्योंकि उससे बलात्कार की कोशिश कर रहे एक पूर्व सरकारी जासूस को उसने मार दिया था, हरियाणा में एक ऐसा व्यक्ति मुख्यमंत्री बन गया है जिसका सार्वजनिक रुप से मानना है कि बलात्कार के लिए औरतें खुद जिम्मेदार होती हैं, केन्द्र में सत्तारुढ भाजपा की मोदी सरकार ने अदालत को अपना नजरिया बताया है कि ....

? सुनील अमर


बेअसर बाल आयोग,बेपरवाह अधिकारी

        च्चों के अधिकारों का संरक्षण ,संवध्र्दन हो सके इसके लिए मध्यप्रदेश में भी बाल अधिकार संरक्षण आयोग का गठन कुछ वर्ष किया  है। मध्यप्रदेश शासन ने इस आयोग को न्यायिक  शक्तियां देकर प्रभावशाली बनायां। आयोग अध्यक्ष को राज्यमंत्री का दर्जा किया। अध्यक्ष के साथ ही आयोग के सदस्यों को भी पर्याप्त अधिकार सम्पन्न बनाकर आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई। इतना सब कुछ होने के बाद भी आयोग की कार्यप्रणाली आम जनता को प्रभावित नहीं कर पाई

? अमिताभ पाण्डेय


संदर्भःअंतर सरकारी पैनल की पांचवी रिपोर्ट

जलवायु परिवर्तन सिर पर मंडरता खतरा

      लवायु परिवर्तन की भयावहता को प्रगट करने वाली वैज्ञानिकों कि प्रमाणिक रिपोर्टें लगातार रही हैं। जिस तरह से प्राकृतिक आपदाओं की निरंतरता बढ़ रही है,उससे साफ हो जाता है कि वैज्ञानिकों द्वारा खतरे के दिए जा रहे संकेत असंदिग्ध हैं। लिहाजा अंतर सरकारी समिति की पांचवी ताजा रिपोर्ट पर गंभीरता से विचार करके जलवायु परिवर्तन के कारक बन रहे कारकों पर अंकुश लगाने की कोशिशें नहीं कि गईं तो दुनिया का तबाही की और बढना तय है।

? प्रमोद भार्गव


15 नवम्बर बिरसा मुण्डा जयन्ती पर विशेष

अविस्मरणीय है धरती का देवता: बिरसा मुण्डा

        दिवासियों में आजादी की अलख जगाने वाले उस क्रान्तिकारी वीर युवक का नाम था-बिरसा मुण्डा। जिसे वनवासी क्षेत्र में धरती का आबा अर्थात देवता कहा जाता था। उसने सन 1895 में ही छोटा नागपुर के अत्यन्त पिछड़े वनांचल में स्वराज्य की घोषणा करके अंग्रेजों की सरकार को गंभीर चुनौती दी थी। जैसे शहीद भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरु जैसे क्रान्तिकारियों के मन में भारत की आजादी के लिए तड़प और दीवानगी थी, वैसे ही बिरसा मुण्डा भी देश की स्वाधीनता हेतु अत्यधिक व्याकुल थे।

? डॉ. गीता गुप्त


देह व्यापार की कानूनी मान्यता का प्रश्न

      भारतीय समाज में वेश्यावृत्ति आज से नहीं आदि से प्रचलित है। भारतीय इतिहास का कोई भी काल खण्ड वेश्यावृति से अछूता नहीं रहा है । आज के युग में तो इसने एक सामाजिक बुराई का रूप धारण कर लिया है। वेश्यावृति को लेकर अभी तक सरकार की कोई स्पष्ट नीति नहीं दिखलाई देती है। सरकार ने अभी तक इसे न तो कानूनी मान्यता दी  है और न ही इसके उन्मूलन की दिशा में कोई ठोस कदम उठाया है। इसे देखते हुए भारतीय महिला आयोग ने वेश्यावृत्ति को कानूनी मान्यता देने की वकालत की है और वह ......

? सुनील तिवारी


किस आफ लव का तमाशा

        भारत अपनी शालीन परंपराओं के कारण पूरी दुनिया में पहचाना जाता है। जहां भी संस्कारों की बात आती है, तो भारतीय परंपराओं की दुहाई दी जाती है। यह परंपरा आज भी देश में जारी है। पर अब इस परंपरा में दरार साफ दिखाई देने लगी है। पाश्चात्य संस्कृति ने देश के युवाओं को बुरी तरह से प्रभावित किया है। कहते हैं कि अच्छी परंपरा का अनुसरण लोग या तो करते ही नहीं, या अनदेखा कर देते हैं, पर बुरी परंपरा को लोग जल्दी स्वीकार कर लेते हैं।

? डॉ.महेश परिमल


  10 नवम्बर- 2014

Designed by-PS Associates
Copyright 2007 PS Associates All Rights Reserved