संस्करण: 08 फरवरी-2010  

CLICK HERE TO DOWNLOAD HINDI FONT


 

मध्यप्रदेश में सत्ता की राजनैतिक साजिश
दोषी हो रहे दोषमुक्त, निर्दोषों पर प्रकरण दर्ज

 

  ध्यप्रदेश की भाजपा सरकार को न तो प्रदेश के विकास-कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में रूचि है और न ही प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने की कोई चिंता। प्रदेश में, हर क्षेत्र में अराजकता का बोलबाला है तथा>अजय सिंह 'राहुल'
(लेखक मप्र विधानसभा के सदस्य और प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हैं)


 

भाजपा में राजनीतिक प्रशिक्षण का प्रस्ताव
विचार तो अच्छा है, भविष्य जैसा भी हो


त्ता सुख के अभ्यस्त हो चुके संघ परिवार से सत्ता छिनने के बाद परिवारी जन इतने बेचैन हो गये हैं कि सत्ता पाने के लिये दिन- प्रतिदिन नये नये प्रयोग करने के विचार करने लगे हैं। भाजपा में बने रहने वाले कुछ शिक्षित   >वीरेंद्र जैन


 

भाजपा : ढाई करोड़ रुपए का राज़
आखिर भाजपा के खजाने पर किसने हाथ साफ किया ?


्याम जाजू, भाजपा मुख्यालय के प्रभारी के बैंक खाते में कितने पैसे जमा हैं ? इस बेहद निजी किस्म की जानकारी को पता करने के लिए बनी योजना के हुए अचानक भण्डाफोड़ ने संघ परिवार में कायम की गयी दिखावटी एकता की पोल खुल गयी है। समूचा घटनाक्रम जिस कदर अपारदर्र्शी है और मामले>सुभाष गाताड़े


 

हिन्दू समागम
देश को बांटने वाला आयोजन है

सा लगता है कि संघ परिवार मध्यप्रदेश के प्रति विशेष ध्यान दे रहा है। यह बात इससे स्पष्ट है कि फरवरी के माह में संघ परिवार के दो बड़े आयोजन मध्यप्रदेश में हो रहे हैं। एक है भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय>एल एस हरदेनिया


 

सम्मानों-पुरस्कारों पर उठ रही हैं अंगुलिया
सम्मान एक, दांवेदार अनेक


राजनैतिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, प्रशासनिक और हर तरह के सम्मानों और पुरस्कारों पर उठने लगी हैं उंगलियां। चाहे वह पुरस्कार अंतर्राष्ट्रीय हो, राष्ट्रीय हो, प्रादेशिक हो या फिर स्थानीय स्तर के ही क्यों >राजेंद्र जोशी


 

राहुल का दौरा और बौखलाई भाजपा

क्य राजनीति ख़राब चीज़ है ? क्या राजनीति में जाना असम्मानजनक है ? क्या युवाओं को राजनीति में नहीं आना चाहिए ? किसी भी भाजपा नेता से ये सवाल किए जाएं तो उसका जवाब नकारात्मक ही होगा। फिर कांग्रेसा>महेश बाग़ी


 

मराठी अस्मिता और क्षेत्रीय उग्रवाद
राठी भाषा की अस्मिता और मराठी मानुष से जुड़े मुद्दे राजनीतिकों द्वारा अपने-अपने राजनीतिक आधार को मजबूत करने के उपाय नजर आ रहे हैं। शिवसेना और महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने तो ये सवाल उठाकर>प्रमोद भार्गव


 

बलात्कार : टूर इण्डस्ट्री का नफा-नुकसान मुख्य मुद्दा न बने

  18 फरवरी 2008 को ब्रिटिश किशोरी स्कारलेट कीलिंग के साथ बलात्कार एवम उसकी हत्या। अक्तूबर 2008 में 14 साल की जर्मन किशोरी के साथ गोवा के मंत्री के बेटे द्वारा बलात्कार, 19 साल की रूसी लड़की>अंजलि सिन्हा


 

सवाल सिर्फ बीटी बेंगन का ही नहीं,
खाद्य सुरक्षा का भी है


        जैव संशोधित बीटी बेंगन की व्यावसायिक खेती को सरकार मंजूरी दे, इससे पहले सारे मुल्क में इसके खिलाफ माहौल बनना शुरु हो गया है। पर्यावरणविदों, कृषि वैज्ञानिकों, जन संगठनों के साथ अब किसान भी इसके>जाहिद खान


 

शहरी गरीबी का उपेक्षित चेहरा

 हाल ही में केन्द्र सरकार ने मलिन बस्तियों के लोगों को गंदगी, बीमारी, असुरक्षा और अपराध के जीवन से बचाने के लिए अगले पांच सालों में शहरों को पूरी तरह से झुग्गी-झोपड़ियों से मुक्त कराने का लक्ष्य घोषित>राखी रघुवंशी


 

स्वास्थ्य का शत्रु है : जंक फूड

  पभोक्तावाद ने आधुनिक जीवन शैली को बहुत बदल दिया है। भारत में उच्च और मध्यवर्गीय जीवन-शैली पर वैश्वीकरण का प्रभाव स्पष्ट दिखाई देता है। लोगों का खानपान इतना बदल चुका है कि आजकल तो जन्मदिन,>डॉ ग़ीता गुप्त


 

ओबामा का डर,
हमारे लिए गर्